रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में आज यहां नवीन विश्राम गृह में आयोजित छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ की कार्यकारिणी की बैठक में छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के पूर्व अध्यक्ष स्वर्गीय  विजय पाण्डेय, बॉस्केटबाल के अंतर्राष्ट्रीय कोच स्वर्गीय  राजेश पटेल और पूर्व संसदीय सचिव  विजय बघेल की दिवंगत माता को दो मिनट का मौन रखकर विनम्र श्रद्धांजलि दी गई। डॉ. सिंह ने स्वर्गीय श्री विजय पाण्डेय और स्वर्गीय श्री राजेश पटेल के खेल के क्षेत्र में योगदान को याद किया। डॉ. सिंह ने कहा कि स्वर्गीय श्री विजय पाण्डेय ने बॉस्केटबाल, हॉकी और फुटबाल के खेलों को बढ़ावा देने के लिए आजीवन काम किया। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय श्री राजेश पटेल बॉस्केटबॉल के द्रोणाचार्य थे। उन्होंने छत्तीसगढ़ की कई खेल प्रतिभाओं को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक पहुंचाया। जब भी छत्तीसगढ़ की टीम मेडल जीतती थी, तो उन्हें लगता था कि यह उनकी व्यक्तिगत उपलब्धि है। उनके मार्गदर्शन में छत्तीसगढ़ की बालिका बॉस्केटबॉल टीम ने बड़ी संख्या में प्रतियोगिताएं और मेडल हासिल किए हैं। वह छत्तीसगढ़ के लिए गौरवशाली उपलब्धि है। बॉस्केटबॉल को बढ़ावा देने में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। बैठक में बैठक में लोकसभा सांसद  रमेश बैस, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री  अजय चन्द्राकर, नगरीय प्रशासन मंत्री  अमर अग्रवाल, भारतीय ओलंपिक संघ के संयुक्त सचिव  विक्रम सिंह सिसोदिया, खेल विभाग के सचिव  आर. प्रसन्ना,  छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के पूर्व अध्यक्ष  सुभाष राव, डॉ. अनिल वर्मा, अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्रीमती नीता डूमरे और श्रीमती सबा अंजुम, छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव  संजय मिश्रा, कोषाध्यक्ष डॉ. विष्णु श्रीवास्तव सहित विभिन्न खेल संघों के अनेक पदाधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।